विजेट आपके ब्लॉग पर

Tuesday, June 27, 2017

विश्वप्रसिद्ध रूसी नाटक "इंस्पेक्टर" ; अंक-5 ; दृश्य-7

दृश्य-7
(ओहे सब, पुलिस चीफ़ आउ पुलिस के सिपाही)
पुलिस चीफ़ - अपने के बधाई देवे में आउ अनेक वर्ष के समृद्धि के शुभकामना देवे में, तत्रभवान् उच्चकुलीन, हम सम्मानित अनुभव करऽ हिअइ !
मेयर- धन्यवाद, धन्यवाद ! बैठ जाय लगी निवेदन करऽ हिअइ, भद्रजन !
(अतिथि लोग बैठ जा हका ।)
आम्मोस फ़्योदरोविच - लेकिन किरपा करके बताथिन, अंतोन अंतोनोविच, कइसे ई सब शुरू होलइ, सब कुछ, मतलब ई घटनाचक्र (course of the affair) । 
मेयर - घटनाचक्र विलक्षण हलइ - ऊ खुद्दे व्यक्तिगत रूप से प्रस्ताव रखलथिन ।
आन्ना अंद्रेयेव्ना - बहुत सम्मानजनक आउ अत्यंत परिष्कृत रूप में । सब कुछ अत्यंत सुंदर ढंग से बोललथिन । बोलऽ हथिन - "हम, आन्ना अंद्रेयेव्ना, बस खाली अपने के गुण के सम्मान के चलते ई करऽ हिअइ ..." आउ अत्यंत उदार सिद्धांत के एतना उत्तम, शिष्ट व्यक्ति ! "की अपने विश्वास करथिन, आन्ना अंद्रेयव्ना, हमर जीवन एक कोपेक (कौड़ी) के नयँ हइ; हम खाली ई कारण से ई सब करऽ हिअइ कि हम अपने के दुर्लभ गुण के आदर करऽ हिअइ ।"
मारिया अंतोनोव्ना - ओह, माय ! ई तो ऊ हमरा से बोल रहलथिन हल ।
आन्ना अंद्रेयेव्ना - रुक, तोरा कुच्छो नयँ मालुम हउ आउ जेकरा से तोरा लेना-देना नयँ हउ ओकरा में टाँग नयँ अड़ाऽ ! "हम, आन्ना अंद्रेयेव्ना, आश्चर्यचकित हिअइ ..." ऊ अइसन खुशामद भरल शब्द के झड़ी लगा देलथिन ... आउ जब हम कहे लगी चहलिअइ - "हम अइसन सम्मान के आशा करे के साहस नयँ कर सकऽ हिअइ" - त ऊ अचानक अपन टेहुना के बल गिर गेलथिन आउ अत्यंत उदार ढंग से बोललथिन – "आन्ना अंद्रेयेव्ना, हमरा सबसे अभागल नयँ बनाथिन ! हमर भावना के उत्तर देवे लगी सहमत हो जाथिन, नयँ तो हम अपन जीवन के मौत से अंत कर लेबइ ।"
मारिया अंतोनोव्ना - सचमुच, माय, ऊ हमरा बारे एहे बात कहलथिन हल ।
आन्ना अंद्रेयेव्ना - हाँ, सचमुच ... तोरो बारे होतउ, हम ई बात के अस्वीकार नयँ करऽ हिअउ ।
मेयर - आउ ई तरह हमन्हीं के भयभीत भी कर देलथिन - बोललथिन, कि ऊ खुद के गोली मार लेथिन । "खुद के गोली मार लेबइ, खुद के गोली मार लेबइ !" - बोललथिन ।
कइएक दर्शक - की कहऽ हथिन ?!
आम्मोस फ़्योदरोविच (जज) - अरे बाप !
लुका लुकीच (अनुदान संस्था के न्यासी) - ई तो बस भाग्य के खेल हलइ ।
अरतेमी फ़िलिप्पोविच - भाग्य नयँ, प्यारे, भाग्य - ई तो पेरू पक्षी हइ; हमर सेवा के कारण अइसन फल मिललइ । (स्वगत) एकरा नियन सूअर हमेशे अपन मुँह से भाग्य के बात करऽ हइ !
आम्मोस फ़्योदरोविच - अगर अपने चाहथिन, अंतोन अंतोनोविच, त हम अपने के ऊ कुत्ता बेचे लगी तैयार हिअइ, जे अपने खरदे लगी चाहऽ हलथिन ।
मेयर - नयँ, हमरा अभी कुत्ता से कोय मतलब नयँ ।
आम्मोस फ़्योदरोविच - अच्छऽ, ऊ नयँ चाहऽ हथिन, त दोसर कुत्ता के बारे हमन्हीं सहमत हो सकऽ हिअइ ।
कोरोब्किन के पत्नी - आह, आन्ना अंद्रेयेव्ना, हम अपने के सौभाग्य पर केतना खुश हिअइ ! अपने कल्पना नयँ कर सकऽ हथिन ।
कोरोब्किन - की हम जान सकऽ हिअइ, कि अभी विशिष्ट अतिथि काहाँ हथिन ? हमरा सुन्ने में अइलइ, कि ऊ कोय कारण से प्रस्थान कर चुकलथिन हँ ।
मेयर - हाँ, ऊ एक दिन लगी बहुत महत्त्वपूर्ण काम से प्रस्थान कइलथिन ।
आन्ना अंद्रेयेव्ना - अपन चाचा के पास, आशीर्वाद लेवे खातिर ।
मेयर - आशीर्वाद लेवे खातिर; लेकिन कल्हिंएँ ... (छींक दे हका)
(एक स्वर में "शतं जीवऽ" निकस जा हइ ।)
 बहुत आभारी ! लेकिन कल्हिंएँ वापिस ... (छींक आ जा हइ) ।
(फेर से "शतं जीवऽ" के समवेत स्वर; सामान्य शोरगुल के अपेक्षा आउ अलग अवाज जादे निम्मन से सुनाय पड़ऽ हइ :)
पुलिस चीफ़ के (अवाज) - तत्रभवान् उच्चकुलीन के निम्मन स्वास्थ्य के कामना !
बोबचिन्स्की के - सो बरस आउ बोरा भर सोना के सिक्का !
दोबचिन्स्की के - भगमान एकरा बढ़ाके चालीस के चालीस गुना कर दे !
अरतेमी फ़िलिप्पोविच के - (स्वगत) तोर सत्यानाश होवउ !
कोरोब्किन के पत्नी के - (स्वगत) तोरा शैतान पकड़उ !
मेयर - हार्दिक धन्यवाद ! आउ अपनहूँ सब खातिर हमरा तरफ से ओहे कामना !
आन्ना अंद्रेयेव्ना - हमन्हीं के अब पितिरबुर्ग में रहे के इरादा हइ । आउ हियाँ परी, स्वीकार करऽ हिअइ, हावा ... बहुत गँवारू हइ ! ... स्वीकार करऽ हिअइ, बहुत अप्रिय हइ ... आउ अइकी हमर पति भी ... ऊ हुआँ जेनरल के रैंक प्राप्त करथिन ।
मेयर - हाँ, हम स्वीकार करऽ हिअइ, भद्रजन, शैतान पकड़े, हमरा जेनरल बन्ने के बहुत मन करऽ हइ ।
लुका लुकीच - आउ भगमान ई प्राप्त करे दे !
रस्ताकोव्स्की - इंसान से असंभव हइ, लेकिन भगमान के तरफ से संभव हइ ।
आम्मोस फ़्योदरोविच - बड़गर जहाज लगी जादे गहरा पानी के जरूरत होवऽ हइ ।
अरतेमी फ़िलिप्पोविच - आउ सेवा के अनुसार सम्मान ।
आम्मोस फ़्योदरोविच - (स्वगत) ई तो विचित्र बात होतइ, जब वास्तव में इनका जेनरल बना देवल जइतइ! इनका तो जेनरल बनावल जाना गाय पर जीन रक्खे के समान होतइ ! खैर, भाय, हियाँ तक पहुँचना अभियो दूर के गीत हको । हियाँ तो तोरा से जादे योग्य लोग हथिन, लेकिन अभियो तक जेनरल नयँ बन पइलथिन ।
अरतेमी फ़िलिप्पोविच - (स्वगत) शैतान पकड़इ, ई तो अभिए से जेनरल बन्ने लगी तैयार हइ ! आउ केऽ जानऽ हइ, हो सकऽ हइ, बनियो जाय । वास्तव में एकरा तो काफी ऐंठी हइ, एकरा तो शैतान भी नयँ पकड़तइ । (ओकरा दने मुखातिब होते) तब, अंतोन अंतोनोविच, हमन्हिंयों के नयँ भुलाथिन ।
आम्मोस फ़्योदोरोविच - आउ अगर कुछ हो जाय, मसलन कोय मामले में जरूरत, त हमन्हीं के सुरक्षा से इनकार नयँ करथिन !
कोरोब्किन - अगले साल अपन बेटवा के सरकारी सेवा लगी रजधानी ले जइबइ, त अनुग्रह करथिन, ओकरा अपन संरक्षण में रखथिन, अनाथ खातिर एगो पिता नियन बरताव करथिन ।
मेयर - हम अपन तरफ से तैयार हिअइ, प्रयास करबइ ।
आन्ना अंद्रेयरव्ना - तूँ, अन्तोशा, हमेशे वादा करे लगी तैयार रहऽ हो । सबसे पहिले तो ई बात के बारे सोचे के फुरसत नयँ मिलतो । आउ ई कइसे संभव हइ आउ काहे लगी खुद पर अइसन वादा के बोझ लेवे के चाही ?
मेयर - काहे, प्रिये ? कभी-कभी तो संभव हइ ।
आन्ना अंद्रेयेव्ना - वास्तव में संभव हको तोहरा लगी, लेकिन हरेक ऐरा गैरा नत्थू खैरा लगी तो अपन संरक्षण प्रदान नयँ कर सकऽ हो ।
कोरोब्किना के पत्नी - सुनते गेलथिन, हमन्हीं के साथ कइसन व्यवहार करऽ हथिन ?
एगो महिला अतिथि - हाँ, ऊ हमेशे अइसने हलथिन; हम उनका जानऽ हिअइ - टेबुल भिर मुझीक (देहाती/ किसान) के बैठाहो, त ऊ अपन गोड़ एकरा पर रख देतो ...

  
सूची            पिछला                     अगला